अयोध्या से श्रद्धालुओं को लाने के लिए भेजी 50 रोडवेज बसें

उत्तर प्रदेश

अयोध्या से श्रद्धालुओं को लाने के लिए भेजी 50 रोडवेज बसें रखी गईं बस्ती। राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के मद्देनजर पूरा प्रशासनिक अमला शुक्रवार की देर रात तक मंथन करता रहा। 14 कोसी और पांच कोसी परिक्रमा में अयोध्या गए श्रद्धालुओं को सकुशल उनके गंतव्य तक पहुंचाना परिवहन निगम के लिए चुनौती थी। लेकिन, बेहतर नीति के तहत बस्ती डिपो की 50 बसों को सिर्फ अयोध्या के लिए लगा दिया गया। जिससे अधिक से अधिक श्रद्धालुओं को अयोध्या से ले जाया जा सके। शनिवार को दिन में लगभग 11.20 पर आए निर्णय और उहापोह की स्थिति में डिपो की कमान सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक आरपी सिंह ने अपने सहयोगियों के साथ संभाली। यात्रियों को असुविधा का सामना न करना पड़े इसके लिए हर तरफ नजर दौड़ाई जा रही थी। हालांकि, लखनऊ, कानपुर, दिल्ली सहित अन्य स्थानों की यात्रा पर निकले लोगों को काफी असुविधा का सामना करना पड़ा। डिपो के बेडे़ में शामिल 103 गाड़ियों में से सात गाड़ियों को प्रशासन को उपलब्ध करा दिया गया था। 15 बसों को आपात स्थिति के लिए रिजर्व में रखा गया था। परिक्रम में अयोध्या गए श्रद्धालुओं को लाने के लिए डिपो की ओर से जिन बसों को भेजा जा रहा था। उनके चालक व परिचालक को सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक की ओर से सख्त निर्देश दिया जा रहा था कि किसी भी दशा में अयोध्या की तरफ जाने वाले सवारियों को बस में न बैठाया जाए। चेतावनी दी कि इन बसों को डिपो से रवाना किया जा रहा है लेकिन रास्ते में कोई यात्री नहीं बैठायेगा। यहां तक कहा जा रहा था कि आपात स्थिति में पुलिस की मदद लें। सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक आरपी सिंह कहते हैं कि यात्री सुविधा व उनकी सुरक्षा हमारी पहली प्राथमिकता है। उच्चाधिकारियों के निर्देश के तहत 50 बसों को अयोध्या भेजा गया। जिससे वहां परिक्रमा में गए श्रद्धालुओं को उनके गंतव्य तक पहुंचाया जा सके। बताते हैं लोकल रूट पर भीड़ के अनुसार बसों को भेजा जा रहा है।

Spread Your Love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *