चुप न रहें, शोषण के प्रति आवाज उठाएंचुप न रहें, शोषण के खिलाफ आवाज उठाएं

उत्तर प्रदेश

चुप न रहें,शोषण के खिलाफ आवाज उठाएं महराजगंज फाउंडेशन की ओर से अपराजिता मुहिम के तहत शुक्रवार को निचलौल तहसील के शिवरन शिक्षा निकेतन ओडवलिया में पुलिस की पाठशाला का आयोजन हुआ। इसमें छात्राओं को सुरक्षा संबंधी जानकारी दी गई। मुख्य अतिथि सीओ निचलौल रणविजय सिंह ने कहा कि छात्राएं मन लगाकर पढ़ाई करें। यदि उन्हें कोई शरारती तत्व परेशान करे तो उसका डटकर मुकाबला करें। किसी से डरें नहीं। कानून के दायरे में रहकर अपने दायित्वों का निर्वहन करें। इस दौरान उन्होंने छात्राओं को अपने अधिकारों के प्रति सजग रहने और शोषण के प्रति आवाज उठाने की सीख दी। साथ ही यह कहकर प्रोत्साहित किया कि आज बेटियां देश-विदेश में अपने दम पर परचम लहरा रही हैं। प्रबंधक अनिल कुमार गुप्त ने कहा कि समाज में बदलाव रातोंरात नहीं आता। ऐसे में हताश होकर न बैठें। समाज में बदलाव हो रहा है। आगे भी होता रहेगा। बस जरूरत है कि हम यह जानें कि हमारे अधिकार क्या-क्या हैं। उनको कैसे हासिल कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे संदेश सोशल मीडिया पर वायरल न करें, जिससे किसी प्रकार की परेशानी हो। प्रधानाचार्य बुद्धेश मणि पटेल ने अतिथियों का आभार प्रकट करते हुए अपराजिता मुहिम को बेटियों के लिए वरदान बताया। मुख्य अतिथि ने नारी गरिमा को बनाए रखने के लिए शपथ भी दिलाई। इस दौरान विजेंद्र पटेल,राजकुमारी गुप्ता, राजेंद्र, अनिल चौधरी, गंगेश, कौशल, अजय,हरेंद्र, प्रभावती, ऋतु पासवान, शैलेष गुप्ता, शिवांगी गुप्ता,श्याम बदन थापा आदि मौजूद रहे। छात्राओं का मनोबल बढ़ा
ऐसे आयोजनों से छात्राओं का मनोबल बढ़ता है। सुरक्षा संबंधी जानकारी बेहतर ढंग से मिली। यह भविष्य में काम आएगी। मन की भ्रांतियां भी दूर हुई हैं। बहुत कुछ जानने को मिला।-अंजुम आरा,छात्रा,कक्षा 12 कानून की जानकारी मिली
पुलिस की पाठशाला से जो कानून का ज्ञान प्राप्त हुआ है। उस पर अमल करते हुए दूसरों को भी प्रेरित करूंगी। हेल्पलाइन नंबरों पर मदद कैसे मिलती है। इसके बारे में जानने को मिला।-ज्योति भारती,छात्रा,कक्षा 10 सुझाव काफी मददगार होंगे अपराजिता मुहिम बेटियों के वरदान साबित होगी। कानून की जानकारी मिलने के साथ ही आत्मरक्षा के बारे में भी जानने को मिला। पुलिस अधिकारियों से मिले सुझाव काफी मददगार होंगे।-शिवांगी पांडेय,छात्रा,कक्षा10
परेशानी साझा करूंगी अब कभी परेशानी होने पर परिजनों से साझा करूंगी। सुरक्षा को लेकर जो सुझाव मिले हैं, उनपर अमल करूंगी। किसी भी विपरीत हालात में डटकर मुकाबला करने का हौसला और जानकारी काम आएगी।-अंजलि गुप्ता, छात्रा,कक्षा 12

Spread Your Love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *